Translate to...

Article 370 पर दिग्विजय के बयान को लेकर बीजेपी हमलावर, प्रसाद बोले- चुप्‍पी तोड़ अपना रुख साफ करे कांग्रेस

नई दिल्ली
अनुच्छेद 370 पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बयान को लेकर बीजेपी हमलावर हो गई है। वरिष्ठ भाजपा नेता व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस पर कांग्रेस से अपना रुख साफ करने के लिए कहा है। उन्होंने सवाल किया कि आखिर कांग्रेस ने इस मामले पर चुप्पी क्यों साध रखी है। क्या वह अनुच्छेद 370 को दोबारा बहाल करना चाहती है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के सत्ता से बाहर होने पर कांग्रेस अनुच्छेद-370 को समाप्त करने के फैसले पर 'पुनर्विचार' करेगी।



दिग्विजय के इस बयान के बाद शनिवार को विवाद पैदा हो गया था। सोशल मीडिया पर आए ऑडियो टेप के मुताबिक, सिंह ने कथित तौर पर कहा था, 'अनुच्छेद-370 को रद्द करना और जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा खत्म करना बहुत ही दुखी करने वाला फैसला है। कांग्रेस पार्टी संभवत: इस मामले को दोबारा देखेगी।'


प्रसाद ने किया तीखा हमला
रविवार को प्रसाद ने इस मामले पर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, 'एक दिन से अधिक हो गया और कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व अनुच्छेद-370 पर चुप्पी साधे हुए है। क्या कांग्रेस अनुच्छेद-370 को बहाल करना चाहती है, जैसा कि दिग्विजय सिंह ने संकेत दिया है? चुप रहने का समय अब समाप्त हो चुका है। कृपया अपना रुख स्पष्ट करें।'



दिग्विजय ने यह बात 'मोदी सरकार के सत्ता से जाने के बाद' इस मामले पर 'आगे की योजना' के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में कही।




पाकिस्तान की भाषा बोलने का आरोप
भाजपा ने इस मुद्दे पर सिंह और कांग्रेस के शीर्ष नेताओं पर हमला बोलते हुए उन पर 'पाकिस्तान की भाषा बोलने' और 'भारत के खिलाफ जहर उगलने' का आरोप लगाया है।

एक अन्य ट्वीट में प्रसाद ने कहा कि अनुच्छेद-370 निरस्त करते समय जम्मू -कश्मीर और लद्दाख में सुशासन बहाल करने का भाजपा ने वादा किया था। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के दूर-दराज क्षेत्रों में कोविड-19 के खिलाफ जिस रफ्तार से टीकाकरण चल रहा है, यह क्षेत्र में जनहित और सुशासन का संकेत है।