Translate to...

फिनलैंड की डेनमार्क पर ऐतिहासिक जीत, पोजानपालो ने दागा इकलौता गोल

कोपेनहेगन
जोएल पोजानपालो की ओर से 59वें मिनट में हेडर से किए गए गोल की मदद से फिनलैंड ने यूरो 2020 के ग्रुप-बी मुकाबले में डेनमार्क को 1-0 से हरा दिया।

फिनलैंड की किसी भी मुख्य फुटबॉल टूर्नामेंटों में अंतिम चरणों में अब तक की यह पहली जीत है। मैच में फिनलैंड की जीत से ज्यादा चर्चा डेनमार्क के मिडफील्डर क्रिस्टियन एरिक्सन को लेकर थी। इंटर मिलान के लिए खेलने वाले 29 वर्षीय एरिक्सन 43वें मिनट में मैदान में टचलाइन के पास लड़खड़ा गए और मैदान पर ही गिए गए।




एरिक्सन को मैदान में ही सीपीआर दी गई और फिर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। मेडिकल स्टाफ ने एरिक्सन को मैदान से बाहर निकालने से पहले लगभग 10 मिनट तक पुनर्जीवित करने की कोशिश की। यूईएफए ने कहा है कि अस्पताल में एरिक्सन की हालत पर काबू पा लिया गया है।

15 सेकंड के एक वीडियो फुटेज में एरिक्सन को टचलाइन के पास गिरते हुए दिखाया गया है। रेफरी एंथनी टेलर और दोनों पक्षों के खिलाड़ियों ने तुरंत मेडिकल स्टाफ को बुलाया। प्रीमियर लीग क्लब टोटेनहम हॉटस्पर से जाने के बाद सेरी ए क्लब इंटर मिलान के लिए खेलने वाले मिडफील्डर को मैदान से बाहर होने से पहले लगभग 10 मिनट तक इलाज मिला।



जब डॉक्टर और पैरामेडिक्स उसे पुनर्जीवित करने की कोशिश कर रहे थे, तब एरिक्सन के साथी कैमरों के लिए दृश्य को अवरुद्ध करने के लिए उनको घेरकर खड़े थे। इस घटना के बाद मैच को पहले स्थगित कर दिया गया था, लेकिन फिर से मैच दोबारा शुरू हुआ।

दूसरे हाफ में 59वें मिनट में जोएल पोजानपालो ने हेडर के जरिए गोल करते हुए फिनलैंड का खाता खोल दिया। डेनमार्क को इसके बाद 72वें मिनट में पेनाल्टी मिला, लेकिन उसके खिलाड़ी इस मौके का फायदा नहीं उठा पाए और उसे हार का सामना करना पड़ा।