Translate to...

सा. अफ्रीका इतिहास की सबसे बड़ी जीत... भारत को हराने के बाद बोले कोच

केपटाउनदक्षिण अफ्रीका के मुख्य कोच ने शुक्रवार को विश्व रैंकिंग में पहले स्थान पर काबिज भारत के खिलाफ पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए 2-1 की जीत को अपने देश की टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सर्वश्रेष्ठ सफलता में से एक करार दिया। सेंचुरियन में बॉक्सिंग डे में खेले गये शुरुआती टेस्ट में हारने के बाद डीन एल्गर की अगुवाई वाली टीम ने वांडरर्स और न्यूलैंड्स में लगातार दो मैच जीत कर जबरदस्त जज्बा दिखाया।

बाउचर ने मैच के बाद कहा, ‘इसे इस तरह से भी देखा जाये कि हमने तीनों मैच में टॉस गंवा दिया था। कुछ मीडिया सहित कई लोगों ने सीरीज के पहले टेस्ट के पहले दिन के बाद हमारी हार की भविष्याणी की थी।’ कोच ने कहा, ‘पहले टेस्ट मैच को बुरी तरह से हारने के बाद वापसी करते हुए दूसरे और तीसरे टेस्ट मैच को जीतना बेहद ही शानदार रहा।’ उन्होंने कहा, ‘यह हमारी शीर्ष पांच जीत में से एक होना चाहिये। सीरीज से पहले हमारी जो स्थिति थी और मैदान के बाहर की बातों के बावजूद ऐसा अच्छा नतीजा हासिल करना बेहतरीन है।’



इस जीत को मनोबल बढ़ाने वाला करार देते हुए बाउचर ने कहा, ‘जिस तरह से पूरी टेस्ट सीरीज खेली गई थी वह कठिन संघर्ष थी। कुछ अच्छा क्रिकेट हुआ। यह दक्षिण अफ्रीका में खेली गई सर्वश्रेष्ठ टेस्ट सीरीजओं में से एक होनी चाहिए।’ इस सीरीज से पहले दक्षिण अफ्रीका ने डीन एल्गर की कप्तान में सिर्फ छह मैच खेले थे और सेंचुरियन के मैदान पर टीम छह महीने के लंबे अंतराल के बाद टेस्ट मैच के लिए उतरी थी।



उन्होंने कहा, ‘इस जीत से मनोबल बहुत बढ़ेगा। इतने कम समय में इन खिलाड़ियों ने जिस तरह का जज्बा दिखाया वह बहुत ही खास है।’ पिछले दोनों टेस्ट में एल्गर के नेतृत्व में अनुभवहीन टीम ने उछाल भरी परिस्थितियों में 200 से अधिक के मुश्किल लक्ष्य को आसानी से हासिल किया। एल्गर ने जोहान्सबर्ग में टीम को रास्ता दिखाया, तो वही केपटाउन में कीगन पीटरसन ने 82 रन बनाकर टीम को जीत दिलायी। बाउचर ने कहा कि वह टीम के पलटवार को लेकर आश्चर्यचकित नहीं है।



उन्होंने कहा, ‘इससे मुझे आश्चर्य नहीं है क्योंकि आपकी टीम में डीन (एल्गर) जैसा खिलाड़ी है। वह खुद जज्बा दिखाते हुए टीम का नेतृत्व करता है। आपके पास उप-कप्तान के रूप में तेम्बा (वावुमा) भी है। वह संघर्ष करने वाला खिलाड़ी है। इसलिए आपके पास नेतृत्व करने वाले दो खिलाड़ी है जिसका लोग अनुसरण कर सकते है।’ बाउचर ने कीगन पीटरसन और बायें हाथ के तेज गेंदबाजी हरफनमौला मार्को जेनसन के योगदान की तारीफ की।