एक वर्ष बाद मैदान पर उतरीं हिमा दास, जीता 200 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण पदक

एक वर्ष बाद मैदान पर उतरीं हिमा दास, जीता 200 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण पदक
पटियालाभारत की स्टार धाविका हिमा दास ने एक साल से ज्यादा समय बाद अपनी पहली प्रतिस्पर्धी रेस में भाग लेते हुए यहां गुरुवार को नेताजी सुभाष राष्ट्रीय खेल संस्थान परिसर में आयोजित इंडियन ग्रां प्री 2 में महिला 200 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण पदक हासिल किया। इक्कीस साल की हिमा ने 23.31 सेकंड के समय से रेस जीती। 400 मीटर में 2018 में विश्व जूनियर चैम्पियन रहीं हिमा ने इससे पहले केवल तीन बार (2018 में दो बार और 2019 में एक बार) ही इससे कम समय में रेस जीती हैं।

हिमा अभी तक आगामी तोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाइ नहीं कर पायी हैं और उन्होंने अगस्त 2019 में अपनी अंतिम प्रतिस्पर्धी रेस में हिस्सा लिया था। कोविड-19 महामारी के बाद पूरा घरेलू कैलेंडर अस्त व्यस्त हो गया और कोई भी भारतीय ऐथलीट विदेश में किसी भी प्रतियोगिता में हिस्सा नहीं ले सका। वहीं दुती चंद ने महिला 100 मीटर स्पर्धा 11.44 सेकंड में जीती और उन्होंने पिछले हफ्ते पहली ग्रां प्री में हासिल किए गए 11.51 सेकंड के समय में सुधार किया।

वह 11.15 सेकंड के मानक समय से ओलिंपिक खेलों के लिए क्वॉलिफाइ करने की उम्मीद लगाए हैं। वह अपनी रैंकिंग के आधार पर भी तोक्यो ओलिंपिक में 56 शुरुआत करने वाले ऐथलीट के तौर पर क्वॉलिफाइ कर सकती हैं। वह इस समय विश्व रैंकिंग में 33वें नंबर पर हैं। पुरुषों की 400 मीटर स्पर्धा में दिल्ली के अमोज जैकब ने 46 सेकंड के व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ समय से पहला स्थान हासिल किया।

200 मीटर स्पर्धा में अरोकिया राजीव ने मोहम्मद अनस याहिया को पछाड़कर 21.24 सेकंड से स्वर्ण पदक जीता। केरल के एम श्रीशंकर ने लंबी कूद स्पर्धा और पुरुष शॉट पुट में तजिंदरपाल सिंह ने पहला स्थान हासिल किया। भाला फेंक स्पर्धा में उत्तर प्रदेश की अनु रानी ने 61.22 के प्रयास से स्वर्ण पदक जीता।