आप रिटेल लोन के ग्राहक हैं तो जानिए एसबीआई के इस रिस्ट्रक्चरिंग पोर्टल से आप कैसे फायदा ले सकते हैं, सुविधा लेने पर 0.35 प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज देना होगा

आप रिटेल लोन के ग्राहक हैं तो जानिए एसबीआई के इस रिस्ट्रक्चरिंग पोर्टल से आप कैसे फायदा ले सकते हैं, सुविधा लेने पर 0.35 प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज देना होगा



देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने रिटेल लोन वाले ग्राहकों के पोर्टल की शुरुआत की है। इस पोर्टल पर आप अपने किसी भी लोन की रिस्ट्रक्चरिंग के लिए आवेदन कर सकते हैं। बैंक का कहना है कि वह उन लोगों की समस्याओं को दूर करना चाहेगा, जिनकी कोरोना और लॉकडाउन की वजह से नौकरी चली गई है और अगले 6, 8, 9 या 12 महीनों में नई नौकरी मिल सकती है।

बैंक का कहना है कि हालांकि यह पूरी तरह उनका आंकलन होगा क्योंकि उन्हें कब नौकरी मिलेगी ये उनके हाथ में है। हमारे हाथ में नहीं।

पहले दिन 3500 ग्राहक आए पोर्टल पर

पोर्टल शुरू होते ही पहले दिन 3500 से ज्यादा रिटेल कस्टमर्स पोर्टल पर आए। इनमें से 111 ग्राहक रिस्ट्रक्चरिंग के लिए योग्य पाए गए। जो ग्राहक रिस्ट्रक्चरिंग का विकल्प चुनेंगे उन्हें सामान्य ग्राहकों के मुकाबले 0.35 फीसदी ज्यादा ब्याज देना होगा। रिस्ट्रक्चरिंग के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख 24 दिसंबर 2020 है। हम आपको बता रहे हैं इस पूरी प्रक्रिया के बारे में।

इस रिजोल्यूशन फ्रेमवर्क का क्या मकसद है?

इसका मकसद उन लोगों को राहत देना है, जो कोविड-19 की वजह से आर्थिक रूप से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

मैं कैसे इसके लिए योग्य हूं, यह कैसे पता चलेगा?

आप इसके लिए इस तरह से पता कर सकते हैं। अगर आपकी सैलरी अगस्त 2020 में फरवरी 2020 की तुलना में कम होकर आई है। लॉकडाउन में आपकी सैलरी कट हो गई या आगे बढ़ा दी गई है। आपका रोजगार चला गया है या बिजनेस बंद हो गया है। अगर आप खुद बिजनेस करते हैं और ऐसे में लॉकडाउन में आपका बिजनेस बंद हो गया या उसमें कमी आ गई।

इस फ्रेमवर्क में कौन-कौन से लोन कवर होंगे?

इसके तहत हाउसिंग और अन्य संबंधित लोन कवर होंगे। एजुकेशन और ऑटो लोन कवर होंगे। इसमें कमर्शियल ऑटो का लोन कवर नहीं होगा। पर्सनल लोन कवर होंगे।

क्या सभी लोन इस फ्रेमवर्क में कवर होंगे?

नहीं। इस फ्रेमवर्क में कवर होने के लिए आपको कुछ बातों और शर्तों को पूरा करना होगा। इसमें आपका लोन आवेदन के दिन तक स्टैंडर्ड अकाउंट में होना चाहिए। साथ ही आपको कोविड से प्रभावित होना चाहिए जैसे दूसरे नंबर के प्रश्न में शर्तें दी गई हैं।

मैने एक मार्च के बाद लोन लिया है तो क्या मुझे यह सुविधा मिलेगी?

नहीं, यह सुविधा केवल उनके लिए है जो खाते एक मार्च 2020 के पहले के हैं।

मैं कैसे आवेदन कर सकता हूं?

आपको एसबीआई की वेबसाइट (www.sbi.co.in) पर आवेदन करना होगा। इस एप्लीकेशन के लिए एक ओटीपी आपको मोबाइल फोन पर मिलेगी। आप चाहें तो बैंक की शाखा में भी जाकर इसे कर सकते हैं।

इसके लिए कौन से डाक्यूमेंट चाहिए?

इसके लिए आपको फरवरी और चालू महीने की सैलरी स्लिप देनी होगी। 24 महीने का मोराटोरियम खत्म होने के बाद की एक अनुमानित सैलरी या इनकम की जानकारी देनी होगी। कंपनी से निकाले जाने का लेटर देना होगा। बैंक खाते का स्टेटमेंट देना होगा, जिसमें आपकी सैलरी आती है। या फिर बिजनेस है तो चालू खाता का स्टेटमेंट देना होगा। यह भी बताना होगा कि आपका बिजनेस कोविड-19 से प्रभावित हुआ है।

कब तक मैं इसके लिए आवेदन कर सकता हूं? और मोराटोरियम में क्या होगा?

आप इसके लिए 24 दिसंबर 2020 तक आवेदन कर सकते हैं। मोराटोरियम के दौरान आपको कर्ज की ईएमआई नहीं देनी होगी।

दो साल के लोन मोराटोरियम का मतलब क्या है और इस दौरान ब्याज लागू होगा?

इसका मतलब यह है कि आप अपने लोन की किश्त को दो साल तक के लिए टाल सकते हैं। हालांकि यह बैंक के नियमों के तहत होगा। हां, इस दौरान ब्याज लागू होगा।

इस मोराटोरियम में क्या पहले वाले मोराटोरियम का भी समय जोड़ा जाएगा?

नहीं, यह उसके अतिरिक्त मोराटोरियम है। पहले के मोराटोरियम से इसका कोई लेना देना नहीं है।

इसके लिए अधिकतम उम्र क्या होगी?

इसके लिए कोई उम्र की शर्त नहीं है। क्योंकि आपने जो लोन लिया है, उसमें केवल दो साल बढ़ाया जाएगा। इसलिए उसकी कोई शर्त नहीं है।

मेरी ईएमआई बढ़ जाएगी?

हां, पहले तो आपके लोन का समय बढ़ जाएगा। बाद में मोराटोरियम के ब्याज की गणना फिर से की जाएगी। आपको 0.35 प्रतिशत का अतिरिक्त ब्याज सालाना देना होगा। साथ ही अगर किसी तरह की अतिरिक्त प्रोविजन के तहत लागत बढ़ती है तो वह भी आपको देनी होगी।

इसके तहत अतिरिक्त लोन भी मिलेगा और एक से ज्यादा खातों के लिए आवेदन कर सकता हूं?

आपको अतिरिक्त लोन नहीं मिलेगा। हां, आप चाहें तो एक से ज्यादा खातों के लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

बैंक प्रोसेस के लिए कितना समय लेगा? और क्या प्रोसेसिंग फीस भी लगेगी?

सामान्य तौर पर बैंक इसे 7-10 दिन में पूरा करता है। यह वर्किंक डे के आधार पर होता है। इस पर कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं लगेगी।







सामान्य तौर पर बैंक इसे 7-10 दिन में पूरा करता है। यह वर्किंक डे के आधार पर होता है। इस पर कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं लगेगी